calcium deficiency symptoms in hindi,calcium deficiency symptoms
Fitness
2

कैल्शियम की कमी होने पर क्या करें

Calcium Deficiency Symptoms – कैल्शियम के बारे में अधिकतर लोग सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के बारे में जानते है। लेकिन ऐसा नही है कैल्शियम हमारे शरीर के हर एक भाग के लिए बहुत जरुरी है। ये भी सही है की 90% कैल्शियम हड्डियो और दांतो में पाया जाता है। शायद आपको पता होगा कि कैल्शियम हमारे हार्ट बीट को भी रेग्युलेट करता है। कैल्शियम की कमी किसी को भी हो सकती है चाहे वो बूढ़ा हो या बच्चा।

ऐसे समय में लोगो को बहुत कम उम्र में ही ऑस्टियोपोरिसिस अथवा “हड्डी विकार” होने कि संभावना अधिक होती है। ऐसा इसलिए होता है क्युकि लोग बहुत कम मात्रा में हेल्थी खाना खाते है। चलिए जानते है कि ऐसा क्या करे जिससे कैल्शियम कि कमी ना हो।

कैल्शियम की कमी होने के क्या कारण है?

  • अपने भोजन में सही मात्रा में कैल्शियम न होने की वजह से कैल्शियम की कमी होती है।
  • महिलाओ में ज्यादा संभावना होती है कैल्शियम की कमी होने।
  • बहुत अधिक दिनों तक सूरज की रोशनी न मिलने से।
  • विटामिन सी की कमी होने पर
  • ड्रिकिंग सोडा का ज्यादा से ज्यादा सेवन करने से।
  • कैफिन यानि की चाय या काफी का अधिक सेवन करने से।
  • सोडियम युक्त पदार्थो का सेवन करने से।

Calcium Deficiency Symptoms||कैल्शियम की कमी होने के लक्षण

  • हड्डियों का कमजोर होना।

हड्डियों का कमजोर होना सबसे बढा लक्षण है, उठने और बैठने में जोड़ो में दर्द होने लगता है। चलने फिरने में भी जांघो और हाथो में दर्द होने कि समस्या होती है।

read also- जानिए- क्या है ग्रीन-टी के फायदे और नुकसान

  • दांतो का कमजोर होना।

कैल्थियम की कमी से दांत कमजोर हो जाते है। मसूड़ो में सूजन, दांतो में सड़न होने की समस्या होने लगती है। छोटे बच्चो में कैल्श्यिम की कमी से दांतो का निर्माण बहुत देर से होता है।

 

  • बालों का झड़ना।

कैल्शियम की कमी से बाल कमजोर हो जाते है। यह झड़ने और टूटने लगते है। अगर आप समय पर इसका इलाज नही कराते है तो आप गंजे भी हो सकते है।

  • नींद न आना और टेंशन रहना।
  • याददाश्त कम होना।
  • हाथ और पैर का सुन्न हो जाना।

कैल्शियम की कमी को दूर करने के उपाय||calcium deficiency treatment in hindi

calcium deficiency treatment in hindi, कैल्शियम की कमी

कैल्शियम की कमी को दूर करना कोई असम्भव काम नही है इसे आप अपने रोजाना के खान पान और रहने के तरिको में बदलाव कर के इसे दूर कर सकते है। चलिए जानते है की कैसे कैल्शियम की कमी को दूर करे।

  1. दूध

दूध सबसे बढ़ीया उपाय है कैल्शियम को बढ़ाने का। यदी आप रोजाना सुबह शाम एक गिलास दूध पीते है तो आपको कैल्शियम की कमी नही होगी।

 

  1. हरी सब्जियों का सेवन

अपने रोजाना के दिनचर्या में हरी सब्जियों को शामिल जरुर करे। पालक, गोभी, भिंडी, करैला आदि। इसमे विटामिन k  बहुत अधिक मात्रा में होता है जो हड्डियों को स्वस्थ्य बनाए रखने में मदद करता है।

  1. अदरक की चाय

अदरक की चाय बहुत फायदेमंद होती है कैल्शियम की कमी के लिए इसलिए अदरक और पानी को उबाल कर उसे पीने से आपके शरीर में कैल्शियम की कमी की पूर्ति होगी।

  1. तिल का सेवन

रोजाना दो चम्मच तिल का सेवन करने से कैल्शियम बढता है या फिर आप तिल की लड्डू भी खा सकते है क्योकि यह खाने में स्वादिष्ट होता है।

 

  1. विटामिन डी का सेवन

विटामिन डी का सबसे अच्छा स्रोत सुरज की किरणे है जिसे आप सुबह जल्दी उठकर इसका पूरा लाभ ले सकते है। इसके अलावा आप खाने में वसायुक्त मछली, दूध, अंडा, पनीर, अनाज, मक्खन आदि चीजो का सेवन करे।

 

  1. पपीता का सेवन

पपीते में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कैल्श्यिम रोगी के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। रोजाना सुबह पपीते का सेवन करने से आप कैल्शियम को बढा सकते है।

 

  1. सेब

सेब खाने से आप जोड़ो के दर्द से बच सकते है। यह जोड़ो में कोलाजन बनाता है जो जोड़ो को मजबूत बनाता है। इसके अलावा सेब में आयरन भी पाया जाता है शरीर में खून की कमी को पूरा करता है।

 

इन सभी बताए गये उपायो को आप आसानी से कर सकते है। और कैल्शियम की कमी को दूर कर सकते है। कभी कभी कैल्शियम की कमी बहुत बडा रोग बन सकती है इसलिए समय पर इसका ख्याल रखे और स्वस्थ्य रहे।

Share on
2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

safed daag ka ilaj, सफ़ेद दाग का इलाज
Health
सफेद दाग क्या होता है? सफ़ेद दाग के लक्षण और इलाज।

सफ़ेद दाग क्या होता है? Safed daag ka ilaj– सफ़ेद दाग को मेडिकल भाषा में विटिलिगो (ल्यूकोडर्मा) कहते है। अधिकतर लोग सफ़ेद दाग को छूत की बीमारी का नाम देते है। कई लोग तो इसे मछली खाने के बाद दूध पी लेने से विटिलिगो हो जाते है ऐसा कहते है। …

Share on
types of cancer in hindi,कैंसर के प्रकार इन हिंदी
Health
Types of Cancer in Hindi॥कैंसर के प्रकार और लक्षण

Types of Cancer in hindi- कैंसर एक जानलेवा बीमारी है, जो आज हर एक दुसरे व्यक्ति को होने कि संभावना रहती है। कैंसर बहुत तेजी से फैलने वाली बीमारी है अगर आप इसके लक्षण को सही समय पर पता कर लेते है तो आप इसका इलाज कराना शुरु कर दे। …

Share on
oats benefits in hindi, oats in hindi
Health
Oats खाने के फायदे और नुकसान

Oats in Hindi* Oats एक साबुत अनाज है जिसे हम हिंदी में जई कहते है। ओट्स को वैज्ञानिको के भाषा में “एवेना सतीवा” के नाम से भी बुलाते है। Oats भारत के पंजाब और हरियाणा के राज्यो में इसकी पैदावार ज्यादा होती है। Oats में भरपूर मात्रा में विटामिन्स के …

Share on