Appendix क्या होता है? Appendix के लक्षण और घरेलु उपाय

appendix meaning in hindi , appendix symptoms in hindi

अपेंडिक्स क्या होता है?|Appendix meaning in Hindi

Meaning of Appendix in Hindi- दोस्तो आपको तो पता ही होगा कि अपेंडिक्स एक खतरनाक बीमारी होती है. जो किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है. अपेंडिक्स दोनो आंतो के बीच में होती है. जो पेट के दाए तारफ रहती है. यदि आपको भी दाए तरफ काफी दिनो से दर्द हो रही है तो शायद यह अपेंडिक्स के लक्षण हो सकते है. अपेंडिक्स में दर्द और सुजन होने के बाद भी अगर आप कई दिनों के बाद भी इसका इलाज नही कराते है तो यह फट भी सकता है. तो आज हम अपेंडिक्स के बारे में बात करेंगे की अपेंडिक्स क्या होता है. अपेंडिक्स कैसे होता है. अपेंडिक्स के लक्षण क्या है. और अपेंडिक्स के क्या इलाज और घरेलू उपचार है. तो चलिए हम इन सब के बारे में एक एक कर के जानते है ।

अपेंडिक्स के कारण | Appendix Causes in Hindi

Appendix हमारे छोटी और बड़ी आंतो के मध्य होता है जो इन्ही का एक टूकड़ा होता है. अपेंडिक्स की संरचना बहुत अलग होती है. जिनमे दो सिरे होते है. जिसका एक सिरा ही सिर्फ खुला होता है. और दूसरा सिरा पूरी तरह से बंद होता है. यही कारण है की किसी भी व्यक्ति को अपेंडिक्स होती है।

क्योकि एक ही भाग खुले होने के कारण आपके द्वारा खाया गया कोई अन्य अपेंडिक्स में पहुच जाता है जिसकी वजह से वह धिरे धिरे सड़ने लगता है और इंफेक्शन हो जाता है. जो पेट में दर्द होने का कारण बन जाता है. अपेंडिक्स में बैक्टेरिया फैलने की वजह से भी दर्द होने लगता है ।

यदि आप सही से भोजन को चबा कर के नही खाते है तो आपको कब्ज जैसी समस्या होने लगती है. जो अपेंडिक्स में दर्द पैदा करने का कारण बन जाती है । अपेंडिक्स होने के एक और कारण है की अगर आप प्रचुर मात्रा में फाइबर नही लेते है और आपके डाइट प्लान में फाइबर की कमी पायी जाती है तो आपको अपेंडिक्स जैसे रोग का सामना करना पड़ सकता है ।

इसे भी पढे- कैंसर कितने प्रकार के होते है

अपेंडिक्स के लक्षण | Appendix Symptoms in Hindi

अगर आपको अपेंडिक्स के लक्षण के बारे में पहले ही पता चल जा है तो आप इसका सही समय पर इलाज करा के अपेंडिक्स से बच सकते है. इसलिए इसके लक्षण को सबसे पहले जानना चाहिए. तो चलिए जानते है की अपेंडिक्स के लक्षण क्या-क्या है ।

अपेंडिक्स का सबसे बड़ा लक्षण नाभि और पेट के दाएं तरफ दर्द होते है. आप किसी भी काम को करते है आपको पेट दर्द की समस्या होती रहती है. यदि आप अपने दाएं पैर को आगे की तरफ भी बढ़ाते है तो आपको पेट के दाएं तरफ दर्द होने लगता. ऐसे में इस तरह की आपको कोई भी समस्या है तो आप डॉक्टर को जरुर बताएं ।

यदि आपको उल्टी की समस्या है और यह कम नही हो रही है तो यह अपेंडिक्स का एक लक्षण भी हो सकता है. अक्सर देखा जाता है की अपेंडिक्स के मरीज जो भी खाते पीते है वह सब उल्टी के कारण बाहर आ जाते है. वह अपने भोजन को पूर्ण रुप से पचा नही पाते है. यदि आपको भी ऐसी समस्या है तो अब आप सावधान हो जायें ।

अधिकतर अपेंडिक्स के मरीजो को देखा जाता है की उन्हे ऐसी बीमारी होती है तो उन्हे बहुत कम भूख लगने लगता है. भूख न लगना यह भी अपेंडिक्स का एक लक्षण होता है ।

यदि आपको हल्का बुखार रहता है तो यह भी अपेंडिक्स का एक लक्षण है. यदि आपको ज्यादा दिनों तक ऐसे ही हल्का बुखार रहता है तो आपको जल्दी से डॉक्टर को देखाना चाहिए. जिससे समय रहते आपको इसका कारण का पता चल जाये ।

इसे भी पढे- डायबिटीज के लक्षण और घरेलु उपाय

अपेंडिक्स का इलाज कैसे होता है? | Appendix Treatment in Hindi

अपेंडिक्स का इलाज डॉक्टर द्वारा कई प्रकार से किया जाता है. यदि शुरुआती दिनो में आप डॉक्टर के पास जाते है तो डॉक्टर अपेंडिक्स को दवाओं के इस्तेमाल से ख्त्म कर देते है.

यदि अपेंडिक्स दवा की मदद से खत्म नही होता है तो डॉक्टर उसे ऑपरेशन के द्वारा बाहर निकालते है ।

अगर आपने बहुत दिनों के बाद डॉक्टर को इसके बारे में बताया और अपेंडिक्स फटने की स्थिति में हो तो डॉक्टर उसे तुरंत सर्जरी कर के बाहर निकाल देते है. यदि वह किसी भी प्रकार से फट गया तो आपको आपके जान का खतरा भी हो सकता है ।

अधिकतर अपेंडिक्स को ऑपरेशन के द्वारा ही खत्म किया जाता है. यही अपेंडिक्स का सबसे बडा इलाज होता है ।

अपेंडिक्स से बचने के घरेलु उपाय

अदरक अपेंडिक्स में रामबाण का काम करती है. यदि अपेंडिक्स की वजह से ज्यादा दर्द होता है तो अदरक बहुत फायदेमंद साबित हो साकता है. अदरक का रस सुबह खाली पेट पीने से आपको इससे जल्दी ही छुटकारा मिल सकता है ।

अदरक की चाय भी पेट सम्बंधि समस्या में काफी लाभदायक होती है. जो आप अदरक की चाय का भी सेवन कर सकते है ।

अधिक मात्रा में पानी पीने से आपको अपेंडिक्स तथा पेट की कोई भी समस्या नही होगी ।

अपेंडिक्स के दर्द में दूध बहुत फायदेमंद होता है. यदि आप ऐसे स्थिति में दूध को उबाल के पीते है तो आपको दर्द में राहत महसूस होगी ।

यदि आपको छाछ पीना पसंद है तो यह बहुत ही अच्छा घरेलु नुस्खा है. एक गिलास छाछ में थोड़ी सी मात्रा में काला नमक को मिलाकर इसका सेवन करे आपको दर्द में राहत मिलेगी ।

हरी सब्जी खाना स्वास्थ्य के साथ साथ अपेंडिक्स रोगी के लिए भी काफी लाभदायक होता है. इसलिए रोजाना हरी सब्जियों का सेवन जरुर करें ।

लहसुन में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाये जाते है जो अपेंडिक्स रोगी के लिए एक रामबाण का काम कर सकती है. ऐसे में लहसुन का सेवन रोजाना करे जिससे आपको जल्दी फायदा मिलेगा ।

इसे भी पढे- सफेद दाग के लक्षण और उपाय

नोट: यदि आपको अपेंडिक्स(Appendix) की इनमे से किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो डॉक्टर को जरुर दिखाये. घरेलु उपाय करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी चाहिए. बिना डॉक्टर के सलाह से आप किसी भी प्रकार के घरेलु उपाय को इस्तेमाल ना करे ।

मुझे उम्मीद है की आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी. यदि आपका किसी भी प्रकार का कोई सवाल है या आपको अपेंडिक्स के बारे में कुछ और पता है तो हमे जरुर बतायें. जिससे हम उसे और भी लोगो को बता सकें ।

अगर आपको हमारी यह जानकारी अपेंडिक्स के लक्षण और घरेलु उपाय पसंद आयी हो तो इसे और भी लोगों के साथ फेशबूक, वाट्सएप जैसे सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे. जिससे उन्हे भी अपेंडिक्स के बारे में पूरी जानकारी मिल सके.

ऐसे ही सेहत से सम्बंधित अच्छी जानकारी पाने के लिए RealmeHealth.com से जुड़े रहे ।  

Share on

One thought on “Appendix क्या होता है? Appendix के लक्षण और घरेलु उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close